हिन्दू-मुस्लिम एकता पर…

हिन्दू धर्म हैं जितना प्यारा उतना ही इस्लाम हैं।
जितनी पावन रामायण हैं उतनी पाक कुरान हैं.
हिंदी-उर्दू भाषा दोनों बहने हैं एक दूजे की.
हिन्दू से न मुस्लिम से दोनों से हिन्दुस्तान हैं.
हिन्दू-मुस्लिम भाई-भाई नारे खूब सुने हमने
देखी जिनमे ना सच्चाई नारे खूब सुने हमने
जब भी देखा लड़ते देखा हमने दोनों पक्षों को
मार-काट में भूल गए हम मानवता के लक्षों को.
जातिवाद से मानवता का सीना गर्क नहीं होगा
दोनों बेटे लहू मिलालो लहू में फर्क नहीं होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>